यात्रा में पैसे बचाने के 13 आसान तरीके 13 Easy ways to save money in trip

जब बात कहीं यात्रा पर जाने की आती है तो सबसे पहला सवाल होता है की कितना खर्च आयेगा? यह हमारा सौभाग्य है की भारत एक ऐसा देश है जहाँ आप सस्ते से सस्ते में अच्छी से अच्छी घुमक्कड़ी कर सकते हैं लेकिन यह तभी संभव है जब आप उन तरीकों के बारे में भी जानते हों जो की ऐसी यात्रा करवा सकते हैं। हम आपको बताने जा रहें हैं कुछ ऐसे ही तरीके जिनको अपना कर आप यात्रा के दौरान पैसे बचा सकते हैं।

  • ऑफ सीज़न के दौरान यात्रा करें और कम प्रसिद्ध स्थानों की यात्रा करें

Chopta

यदि आप ऑफ सीज़न अथार्त जब पर्यकटों की भीड़ कम होती है, के दौरान यात्रा करें तो आप यात्रा पर होने वाला खर्च में अच्छी – खासी बचत कर सकते हैं। इस दौरान आप भी अपने उस मनपसंद होटल में ठहर सकते हैं जो की यात्रा पीक सीज़न के दौरान आपके बजट से बाहर था। अपने देश में आम तौर पर यात्रा का पीक सीज़न अक्टूबर से मार्च और मई से जून के बीच होता है।

बर्फ़बारी देखने चाह रखने वाले आम तौर पर अक्टूबर से फ़रवरी के दौरान हिमाचल प्रदेश, उत्तराखण्ड, कश्मीर और पूर्वोत्तर की ओर रुख करते हैं। रेगिस्तान और भव्य किलों – महलों आदि की सैर करने की इच्छा रखने वाले राजस्थान जाते हैं और समुंदर की लहरों के प्रेमी गोवा, मुंबई, केरल, तमिलनाडु आदि में डेरा डालते हैं। हालाँकि मई और जून भी पीक सीज़न से अछूता नहीं हैं। इस दौरान गर्मी पाने के लिये बहुत से लोग शिमला, मनाली, कश्मीर, लद्दाख आदि चले जाते हैं। लम्बी त्योहारी छुट्टियों जैसे दिवाली, नववर्ष, आदि के दौरान भी होटल के दाम आसमान छूते हैं।

अतः आप मार्च, अप्रैल, अगस्त, सितंबर के दौरान यात्रा पर निकले तो यात्रा पर होने वाले खर्च में अच्छी बचत हो सकती है। बहुत से होटल और एयरलाइन्स इस दौरान सस्ती डील देते हैं। यदि आपको बारिश में कोई आपत्ति नहीं है, तो आप मानसून के दौरान अपने व्यय में 50% तक की बचत कर सकते हैं। वैसे आप यदि आप पीक सीज़न के दौरान ही जाना चाहते हैं और खर्च भी अधिक नहीं बढ़ाना चाहते हैं तो उसका भी उपाय है। आप कम प्रसिद्द स्थानों पर जायें, जैसे की यदि आप बर्फ़बारी देखना चाहते हैं तो ऐसा नहीं है की केवल मनाली और शिमला में ही बर्फ पड़ती है! आप चोपता, कौसानी, बिनसर, औली आदि भी जा सकते हैं। ये स्थान प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर हैं और मनाली, शिमला, कश्मीर की तुलना में बहुत सस्ते भी।

(मानसून और अन्य मौसमों के दौरान यात्रा में बरते जाने वाली सावधानियों और उपायों के बारे में पढ़ें)
  • हॉस्टल, सरकारी रेस्ट हाउस, धर्मशाला या रेलवे रिटायरिंग रूम में ठहरें

GMVN Rest house sankri
GMVN Rest house Sankri

शुक्र है की वो दिन गए जब भारतीय हॉस्टल्स में इतने कठोर नियम होते थे की किसी स्कूल जैसा अनुभव होता था। अब देश में बैकपैकर हॉस्टल चेन तेजी से उभर रही हैं। यात्रा का आनंद इन हॉस्टल्स में आयेगा, इस बात की गारंटी है। ये हॉस्टल्स खूबसूरत होते हैं और यहाँ आपको वे सभी सुविधाएँ मिलेंगी जो की किसी भी विश्वस्तरीय बैकपैकर हॉस्टल में मिलती हैं। इनमें आपको शेयर्ड रूम के साथ – साथ निजी कमरे भी मिल जाते हैं।

उत्तराखण्ड में गढ़वाल मंडल विकास निगम (GMVN) और कुमाऊ मंडल विकास निगम (KMVN) के सरकारी रेस्ट हाउस भी जगह – जगह बने हुए हैं जो की सस्ते भी हैं और अच्छे भी। वैसे काउचसर्फिंग भी अब भारत में शुरू हो चुकी है, लेकिन अपने मेजबान को बुद्धिमानी से चुनें, विशेषकर यदि आप महिला हैं।

इनके अतिरिक्त धर्मशाला और रेलवे के रिटायरिंग रूम भी बहुत ही अच्छे और सस्ते विकल्प हैं। धर्मशालायें आम तौर पर सभी शहरों में मिल जाती हैं, अच्छी होती हैं और सस्ती भी। रेलवे के रिटायरिंग रूम केवल उसी स्टेशन पर मिलेंगे जहाँ से आपकी यात्रा आरम्भ या समाप्त हो रही हो।

  • शहर से दूर किसी ग्रामीण क्षेत्र की यात्रा करें

Sankri

होटल की दरें शहरों में आसमान छूती हैं, और वे हर साल बढ़ती रहती हैं। मुंबई, बंगलुरु जैसे शहरों में तो यह बहुत ही महंगे हैं। इसलिये यदि आप शहरी भीड़ से दूर किसी ग्रामीण क्षेत्र की यात्रा पर जायें तो आपके ठहरने का खर्च काफी कम आयेगा, ऊपर से भीड़ कम होने के कारण आप यात्रा का आनंद भी ले पायेंगे।

(गर्मियों की छुट्टी का आनंद लें इन गांवों में)
  • बैकपैकर बने

Devprayag

युवाओं के साथ – साथ यात्रा पर सबसे बड़ी समस्या आती है पैसों की क्योंकि अक्सर उनका बैंक बैलेंस कम ही रहता है। इसलिये यदि आप युवा हैं और सस्ते में यात्रा करना चाहते हैं तो बैकपैकिंग आपके लिये एक बहुत अच्छा विकल्प है।

(फर्स्ट टाइम बैकपैकर्स के लिए भारत में सर्वश्रेष्ठ यात्रायें)
  • फ्लाइट की टिकट एडवांस में बुक करें

बहुत से लोग यात्रा के बारे में सोचते रह जाते हैं लेकिन टिकट बुक नहीं करवाते और जब यात्रा में कुछ ही दिन रह जाते हैं तब फ्लाइट की टिकट बुक करते हैं। इससे होता यह है की आपकी हवाई यात्रा बहुत महँगी पड़ती है। भारत में सभी एयरलाइंस एडवांस बुकिंग के लिए छूट प्रदान करती हैं। केवल यही नहीं कुछ विशेष अवसरों पर विभिन्न ऑफर्स आते रहते हैं। इसलिये अवसर का लाभ उठाते हुए पहले ही बुकिंग कर लें।

  • प्रातः काल या देर रात की फ्लाइट बुक करें

हवाई अड्डे पर सुबह 4 – 5 बजे या देर रात पहुंचना थोड़ा असुविधाजनक हो सकता है लेकिन यही वह समय होता है जब हवाई यात्रा सस्ती पड़ती है। इसका एक लाभ और होगा की पूरा दिन आपके पास यात्रा या आराम करने के लिये होगा।

  • रेल से यात्रा करें

New Delhi Railway station
New Delhi Railway Station

इसमें कोई संदेह नहीं है कि भारतीय रेलवे बजट के प्रति सचेत रहने वालों के लिए यात्रा करने का सबसे अच्छा, सस्ता और सुगम साधन है। इसके अलावा, यदि आप रात में रेल यात्रा करते हैं तो आपको एक होटल का भी खर्च बचा सकते हैं। अब तो भारतीय रेल टूर पैकेज भी प्रदान करती है।

  • बस यात्रा

Devprayag
देवप्रयाग 

बहुत से लोगों के लिये बस यात्रा असहज और थकाऊ होती है लेकिन छोटी दूरी के लिये बस यात्रा अच्छा और सुविधाजनक विकल्प है। दक्षिण भारत में तमिलनाडु, केरल और कर्णाटक में यात्रा के लिये बस बहुत अच्छा विकल्प है। इनके अतिरिक्त उत्तर भारत में उत्तराखण्ड, हिमाचल और कश्मीर में बस यात्रा बहुत प्रचलित है।

  • मोल – भाव की आदत डालें

मोल – भाव तो हम भारतियों के डीएनए में है। हालाँकि सभी लोगों के साथ ऐसा नहीं है। विशेषकर युवा मोल – भाव नहीं कर पाते, जिसकी वजह से वे 100 रुपये वाली वस्तु के लिये 200 रुपये दे बैठते हैं। इसलिये जहाँ भी संभव हो मोल – भाव अवश्य करें, फिर चाहे वो होटल हो या ट्रेवल एजेंट से टूर पैकेज लेना।

  • एक हॉलिडे पैकेज चुनें

Gangnani

यदि आप घुमक्कड़ हैं और आपको यात्रा से जुड़े सभी साम – दाम – दंड – भेद में महारत हासिल है तब तो कोई समस्या नहीं, लेकिन यदि ऐसा नहीं है और आप परिवार के साथ यात्रा पर हैं तो हॉलिडे पैकेज लेना सबसे अच्छा रहेगा। यह पैकेज यात्रा के दौरान आपकी बहुत सारी समस्याऐं जैसे की होटल का चुनाव, ट्रेन/ बस पकड़ना, टैक्सी की बुकिंग आदि समाप्त कर देंगे। आप इन पैकेज की सहायता से यात्रा पर होने वाले खर्च में 20 % तक की बचत कर सकते हैं।

  • रिवार्ड्स पॉइंट्स

बहुत से होटल और यात्रा क्लब अपने सदस्यों को समय – समय पर कुछ रिवार्ड्स पॉइंट्स देते रहते हैं। आप इन पॉइंट्स का इस्तेमाल अपनी यात्रा में करके बचत कर सकते हैं।

  • भोजन पर खर्च में बचत

होटलों में भोजन अक्सर महंगा पड़ता है, इसलिए यदि आप भोजन की लागत थोड़ा कम करना चाहते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप उन होटलों में रहें जिनमें कमरे की दर में खाना शामिल है। इन दिनों, कई होटल नि: शुल्क बुफे और नाश्ते भी प्रदान करते हैं। इसके अलावा, छोटे स्थानीय रेस्टॉरेंट भी सस्ती दरों पर भोजन उपलब्ध कराते हैं।

खाना अलग – अलग न लेकर थाली के हिसाब से लें, यह सस्ता पड़ता है। जैसे की कुछ लोग रोटी, सब्जी आदि सब अलग – अलग लेते हैं, यह महंगा पड़ता है… जबकि थाली में लगभग सभी स्थानीय व्यंजन शामिल होते हैं और यह सस्ती भी पड़ती है। अधितकर जगहों पर यह 100 रुपये तक में मिल जाती है। यदि आप किसी तीर्थ स्थल (मंदिर, गुरुद्वारा) पर जा रहे हैं तो एक समय का भोजन तो प्रशाद के रूप में निःशुल्क भी कर सकते हैं। मंदिरों और गुरुद्वारों में रहने का प्रबंध भी होता है।

  • हुनर को बनायें सस्ती यात्रा का माध्यम

Image source: Jose Ausncion
Image source: Jose Ausncion

देश में बहुत से ऐसे होटल और बैकपैकर हॉस्टल्स है जहाँ आप स्वयं सेवा के बदले बिना निःशुल्क रुक सकते हैं। ऐसे हॉस्टल्स की जानकारी ऑनलाइन भी मिल जाती है, इन्ही में से एक वेबसाइट है https://www.worldpackers.com/ है। यहाँ उन सभी कार्यों की सूची है जिन्हे आप करके निःशुल्क या बेहद कम दरों पर स्टे प्राप्त कर सकते हैं। इन कार्यों में शामिल है सोशल मीडिया प्रोमोशन, फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी, गतिविधियों की व्यवस्था करना, कार्यालयी कार्य, सामाजिक कार्य, शिक्षण और खेती आदि।

2
Leave a Reply

avatar
1 Comment threads
1 Thread replies
0 Followers
 
Most reacted comment
Hottest comment thread
2 Comment authors
adminPrakash Recent comment authors
  Subscribe  
newest oldest most voted
Notify of
Prakash
Guest

आपके सुझाव काफी काम के हैं